17.2 C
New York
Thursday, September 29, 2022

Budget 2022: आम बजट में क्‍या हुआ सस्‍ता और महंगा, जानिये आम आदमी को क्‍या मिला

नई दिल्ली। वित्त वर्ष 2022-23 का बजट वित्त मंत्री निर्मला सीतरमण मंगलवार को पेश कर दिया है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कोरोना महामारी की तीसरी लहर के बीच आम बजट 2022-23 पेश किया। लगातार दूसरी बार उन्होंने पेपरलेस बजट किया है। वित्‍त मंत्री ने बजट पेश करते हुए कई वस्तुओं पर कस्टम ड्यूटी में बदलाव करने का ऐलान किया है। इसके बाद अब इन वस्तुओं के भाव पर भी असर पड़ेगा। ससे बहुत से सामान सस्ते होंगे, तो वहीं कई चीजें महंगी होंगी।

यह सामान हुआ सस्‍ता
मोबाइल फोन, चार्जर, खेती का सामान, हीरे के आभूषण, खेती का सामान, कपड़ा, चमड़े का सामान, विदेशी मशीनें, इलेक्ट्रानिक समान, फ्रोजन मसल्स, फ्रोजन स्क्विड, हींग, कोको बीन्स, मिथाइल अल्कोहल, एसिटिक एसिड, कैमरा लेंस, बटन, ज़िपर,पैकेजिंग बॉक्स सस्ते हुए हैं।

यह चीजें हुई महंगी
हेडफोन और इयरफोन, स्मार्ट मीटर, सोलर सेल, सोलर माड्यूल, छाता, नकली आभूषण, एकल या एकाधिक लाउडस्पीकर, एक्स-रे मशीन, इलेक्ट्रानिक खिलौनों के पार्ट्स महंगे हुए हैं।

जानिये बजट की खास बातें

  • बजट में टैक्स स्लैब्स में कोई बदलाव नहीं हुआ है। 2.5 लाख रुपये तक की आय करमुक्त है। 2.5 लाख से 5 लाख रुपये तक की आय पर 5 प्रतिशत कर लगता है।
  • क्रिप्टोकरेंसी से होने वाली आय पर 30 फीसदी का टैक्स देना होगा।
  • पीएम आवास योजना के तहत 80 लाख मकान बनाए जाएंगे।
  • एमएसपी का भुगतान सीधे किसानों के खाते में किया जाएगा।
  • 400 नई जनरेशन की वंदेभारत ट्रेनें अगले 3 साल के दौरान चलाई जाएंगी।
  • गंगा के किनारों के 5 किलोमीटर के दायरे में आने वाली जमीन पर ऑर्गेनिक खेती को बढ़ावा दिया जाएगा।
  • 2022-23 में 5जी मोबाइल सेवाओं के लिए स्पेक्ट्रम आवंटन होगा। निजी टेलीकॉम कंपनियां 5जी सेवाएं शुरू कर सकेंगी।
  • ई-पासपोर्ट जारी किया जाएगा जिसका फायदा विदेश जाने वाले यात्रियों को होगा। ई-पासपोर्ट चिप से लैस होंगे। पासपोर्ट में मौजूद चिप में बायोमेट्रिक डाटा रहेगा।
  • सरल और गुणवत्तापूर्ण शिक्षा प्रदान करने के लिए सरकार एक डिजिटल विश्वविद्यालय की स्थापना करेगी। यह विश्वविद्यालय आईएसटीई स्टैंडर्ड का होगा।
  • कृषि विश्वविद्यालयों के सिलेबस को नए सिरे से प्राकृतिक जरूरत, जीरो बजट, ऑर्गैनिक फार्मिंग और आधुनिक कृषि के आधार पर संशोधित किया जाएगा।
  • मानसिक स्वास्थ्य को ध्यान में रखते देश में नेशनल टेलीमेंटल सेंटर शुरू किए जाएंगे। आईआईटी बैंगलोर इसके लिए तकनीकि सुविधाएं उपलब्ध कराएगा।
  • सरकार जल्द ही बैटरी स्वैपिंग पॉलिसीलेकर आएगी। बैटरी स्वैपिंग सुविधा का फायदा यह होगा कि इलेक्ट्रिक व्हीकल (ईवी) में बैटरी चार्जिंग की समस्या खत्म हो जाएगी।

Related Articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Stay Connected

22,878FansLike
0FollowersFollow
0SubscribersSubscribe
www.classicshop.club

Latest Articles